श्री गणेशाय नम:

The Green Society Logoदि ग्रीन सोसायटी, भिवानी(हरियाणा) (पंजीकृत), अराजकीय अवित्तिय लाभ प्राप्त समाज सेवी संस्था है।

इस संस्था का मुख्य कार्य है पर्यावरण को प्रदुषण से मुक्त करवाना और भिवानी निवासियों का सामान्य जीवन सुखी, स्वस्थ,स्वच्छ, सुन्दर व हरित बनाने को यह संस्था गत 4 वर्षों से पूर्ण व सार्थक प्रयास कर रही है।

संस्था के नाम ग्रीन शब्द का एक महत्वपूर्ण अर्थ है (Great Revolution for Elimination of Environmental Nuisances)

समाज में फ़ैली अनेक कुरितियों के विरूध एक सशक्त मानसिक सोच पैदा करने के लिये यह संस्था कटिबद्ध है।

समान व स्वच्छ विचारधाराओं के व्यकित्यो के समुदाय द्वारा 10 फ़रवरी 2010 को इस संस्था का गठन मुख्यत: शहर को स्वच्छ, सुन्दर व हरित बनाने के लिये किया गया था। शहर के प्रसिद्ध चिकित्सक, शिक्षाविद, उद्योगपति, व्यापारी एवं समाज सेवी इस संस्था के सदस्य है। डा. पी. के. आनन्द के संरक्षण में संस्था के विभिन्न पदाधिकारी बने।

जिनमे अध्यक्ष डा.श्री अजीत गुलिया, सचिव श्री जगदीश गिरधर, कोषाध्यक्षश्याम सुन्दर गौतम व कार्यकारिणी के सदस्य डा. श्री त्रिलोकी भूषण गुप्ता, श्री निकेश शाह, श्री दीपक बंसल, श्री अमित गाबा एवंम श्री यतिन्द्र नाथ मुख्य है।


इस सोसायटी ने 19 अप्रैल 2010 को विश्व पृथ्वी दिवस पर पहला संदेश “पोलिथिन हटाओ, धरती बचाओ” भिवानी के विभिन्न विद्यालयो के लगभग 5000 छात्र–छात्राओं की सबसे बड़ी मानव श्रृंखला बनाकर दिया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि तत्कालीन उपायुक्त श्री रमेश वर्मा व महंत श्री वेदनाथ जी थे।

इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिये संस्था के अनेक सदस्यों ने विभिन्न प्रचार माध्यमों से आम जनता को पोलिथीन के अभिशाप से बचने का संदेश दिया। विभिन्न बाज़ारों आवासीय क्षेत्रों, कालोनियों में घर-घर जा कर पोलिथीन को प्रयोग न करने का आह्वान किया तथा उन घरों में कपड़े तथा जूट से बने थैलों का वितरण किया। इसी दौरान सोसायटीने वाटर वर्क्स के टैंको को भरने वाली मुख्य नहर की सफाई को युद्धस्तर पर किया जिस से पुरा पानी पहुचेऔर शहर मे पानी की कमी ना रहे। सब्जी मंडी में सफाई अभियान चलाया तथा कपडे के थैले बाटे।तत्कालीन ADC विधान साह्ब, नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती सेवा देवी ढिल्लो तथा हरियाणा प्रदूषण कंट्रोलबोर्ड के अधिकारी श्री शक्ति सिह का सहयोग लिया तथा उन्होने भिवानी निवासियो को  पोलिथिन के प्रयोग की हानियों से अवगत कराया । जनसाधारण में एक जागरुकता आयी जिससे निवासियो ने पोलिथिन के प्रयोग को छोड़ने का भरसक प्रयत्न किया।

श्री शक्ति सिह जी ने आम जनता को बताया कि पोलिथीन प्रयोग से धरती दूषित हो रही है, सीवरेज जाम हो रहे है तथा जाने अनजाने कई पशु काल का ग्रास होते है। इसी श्रृंखला मे एक ओडियो विडियो प्रसारण के द्धारा विभिन्न विधालयों के हजारो छात्र छात्राओ को SAY NO TO POLYTHENE की भावना 2011 मे जागृत की ।

शहर के भिन्न – 2 स्थानो पर सत्संग के माद्द्यम से परम पूज्य श्री भिक्षु जी, श्री कृष्णा नन्द जी, साधवी करुणा निधि जी, स्वामी निरन्जन जी ने ग्रीनसोसायटीकी उपस्थिती मे साधको को पोलिथीनप्रयोग न करने की शपथ दिला कर अमुल्य सह्योग दिया।

2011 के शरदीय नवरात्रो मे देवसर धाम में सोसाइटी के सद्स्यो ने मन्दिर के प्रबन्धकों के साथ मिल कर वँहा आने वाले श्रद्धालुओ को प्रसाद ले जाने हेंतु हजारो की संख्या में कपडे के थैले बाँटे। परिणाम स्वरुप पाँलिथीन थैलियो मे प्रसाद ले जाना निषेध कर दिया गया। भिवानी निवासियो ने पाँलिथीन की थैलियो का प्रयोग बहुत कम कर दिया।

  

हम सब की अंतिम यात्रा के स्थान हांसी गेट श्री राम बाग के जीण्रोद्धार का जिम्मा भी लिया। इस ‘रामबाग’ के परिसर को साफ करवाकर नये बगीचो का निर्माण किया गया। पूरे रामबाग के फर्शो पर इन्टरलाँकिग टाइल्स लगवाये तथा दो बड़े टीन शैड बनवाए ताकि वर्षा के दिनों में लकडि्यो को सुरक्षित रखा जा सके। दाह संस्कार स्थान के तीन शैड बद्लवाये गये। शव यात्रा में आने वाले सज्ज्नों के बैठने के लिय नये बैंच लगवाए गये। रामबाग मे पानी की भारी कमी को दुर करने हेतु स्पेशल 6 इंच की पाईप लाईन लाई गई। रामबाग को जाने वाली सड़क का पुर्न निर्माण सीमेन्ट से करवाया। इस से आवागमन व्यवस्थित एवं सरल हो गया और शव यात्रा में आने वाले सज्जनो को सुविधा हो गई।

इस समाज सुधार के कार्यक्रमो के लिये अनेक सह्र्द्य समाज सेवियो ने सहयोग दिया। भिवानी – महेन्द्र्गढ़ लोकसभा सांसद श्रीमती श्रुति चौधरी जी व तत्कालीन उपायुक्त श्री रमेश वर्मा जी का विशेष सहयोग रहा।  रामबाग की सफाई एवं देखरेख निरंतर जारी है। इस कार्य के लिये सोसाइटी पिछले 3 साल से नियमित माली रखा हुआ है।

पर्यावरण प्रदूषण रोकने का श्री मंत्र ले कर सोसाइटी ने अपने द्धितीय स्थापना दिवस 4 अप्रैल 2011 को नेकीराम सभागार में आयोजित किया। इस दिवस पर जनता महाविधालय चरखी दादरी के प्राचार्य डा डी एन याद्व ने अपने व्याखान में चौकाने वाले तथ्यो द्धारा आमजन को अवगत करवाया। उन्होने बताया पर्यावरण के प्रति हमारी उदासीनता कितनी घातक सिद्ध हो रही है।

ग्रीन सोसाइटी द्धारा किये गये समाज सुघारों से आमजन की जिज्ञासा सोसाइटी के प्रति इतनी बढ गई कि नित्य नये नये लोग इस से जुडते जा रहे है।

  

सोसाइटी ने भिवानी शहर मे अपने कार्यक्रम को आगे बढाते हुए शहर के प्रमुख चौराहो को ‘क्लीन व ग्रीन’’ करने का अभियान छेड दिया। इस कार्यक्रम के अन्त्रगत हाँसी चौक, घँटाघर चौक, वैश्य काँलेज चौक, बी टी एम चौक, दिनोद गेट चौक पर नई ग्रिल लगवाई, जो ग्रिल जर्जर हालत मे थी उन्हें ठीक करवाया गया। सभी चौराहो को फूलदार पौधो से सजाया गया तथा डिवाइडर के साथ हैज लगवाने का कार्य किया गया। पिछले 3 वर्षो इन पौधो की देखभाल सोसाइटी के द्धारा स्थायीमाली रख की जा रही है। समय समय पर इन चौराहो पर लोगों द्धारा पोस्टर एवं बनैर लगाकर चौराहो की सुन्दरता पर ग्रहण लगा दिया जाता है। सोसाइटी के सद्स्यों ने उन्हे हटा कर चौराहो की सफाई की।

पर्यावरण को हरा भरा बनाने के उद्धेश्य से सोसाइटी ने 2013 के आरम्भ मे नेकीराम के सभागार प्रागणं को अपनाया। यह क्षेत्र पूर्ण रुप से उजड़ सा गया था। स्थानीय प्रशासन की उदासीनता तथा लापरवाही के कारण वहाँ आवारा नशेड़ी लोगों का आना जाना बना रहता था। देख रेख के आभाव मे एक सुन्दर स्थान और महात्मा गाँधी की प्रतिमा एक खण्डहर मे तबदील हो गई थी।

  

सोसाइटी सद्स्यो ने मिलकर अपनी सोसाइटी के कोष से इस उधान का पुर्न निमार्ण किया। पूरी चार दिवारी की टूटी हुई फैन्सिग नए सिरे से लगवाई गई। इससे अवांछित लोगो का अन्दर घुसना रुक गया। नए लाँन एव सैकडो की संख्या मे नये वृक्ष लगवाए गये। वहाँ के लाँन के चारों ओर टाइल्स युक्त पथ का निमार्ण करवाया तथा फौवारो को भी दोबारा दुरुस्त कर चालु करवाया गया है।

आज यह उधान ऐसा हरा भरा हो गया है कि प्रातः एव सांय काल यहा फूलो की महक लेने के लिए बैठने का सभी का दिल करता है। परिणाम स्वरुप उपेक्षित सभागार अब अनेक सामाजिक कार्यक्रमो के आयोजन का केन्द्र बन गया है।


7 अप्रैल 2103 को सोसाइटी ने अपने चतुर्थ संस्थापना दिवस को एक मिनी मैराथन का आयोजन करके मनाया। इस नगर मे यह कार्यक्रम पहला आयोजन था इस आयोजन का उदेश्य जन साधारण को पर्यावरण के प्रति जागरुक करना था। विभिन्न आयु वर्गो की महिलाओ एव पुरुषो ने इस मिनी मैराथन मे भाग लिया। यह मैराथन स्थानीय चिनार सुटिंग्स औधोगिक क्षेत्र से शुरु की गई तथा नेकीराम जिला पुस्तकालय पर समाप्त की गई। 500 से अधिक प्रतिभागियो ने इस दौड़ मे भाग लिया। इस आयोजन ने जन क्रान्ति का कार्य किया। स्वच्छ भिवानी के स्वेच्छाचारी (VOLUNTEER FOR BETTER BHIWANI)के रुप मे अनेक नगर वासियों ने इस आयोजन मे अपनी भागेदारी दर्ज करावाई। इस आयोजन के लिए चिनार सुटिंग, हिन्दुस्थान ग्वार गम व प्रमुख समाज सेवियों की और से विशेष सहयोग दिया गया।

आज ग्रीन सोसाइटी भिवानी लगभग 100 सद्स्यो का एक परिवार बन चुका है। जो विभिन्न क्षेत्रो मे कार्य कर रहा है। नगर को स्वच्छ व सुन्दर बनाने के लिय निरंतर भागीरथी प्रयास मे जुटा हुआ है।

आप सभी जानते है कि इस सामाजिक कार्यक्रमों के आयोजन हेतु अर्थ एव श्रम की निरंतर आवश्कता रहती है। हम इस सोसाइटी की तरफ से सभी नागरिक बन्धुओं, प्रतिष्ठानों, बैंको एव उघोगपतियों से निवेद्न करते है कि वे इस पुनीत यज्ञ मे अपनी - 2 आहुति अवश्य डालें।

अपना चतुर्थ स्थापना दिवस मनाने के बाद सोसाइटी अपने सामाजिक सरोकारो मे निरन्तर व्य्स्त है। जितने भी प्रोजेक्ट आरम्भ किए गए उनका नियमित संचालन हो रहा है।

साल 2013 -14 के दौरान नई कार्यकारिणी का गठन हुआ जिसमे श्री यतिन्र्द नाथ को प्रधान चुना गया । उनके नेतृत्व में सोसाइटी के सद्स्य पूरी कर्मठता के साथ अपने प्रयोजनों को अन्जाम दे रहे है।

अनेक जागरुकता अभियान चलाए गये और सोशल मिडिया द्वारा समाज को अघिक स्वच्छ व समृद्धबनाने के प्रयास जारी है। नवम्बर 2013 में राष्ट्रीययुवा योजना के संस्थापक श्री एस. एन. खुब्बा राव (भाई जी) के निर्देशनमें व नेहरु युवा केन्द्र के भिवानी प्रभारी श्री दीपा तंवर जी के सह्योग से करीब एक सौ से अधिक छात्रों ने जो कि भारत के विभिन्न प्रांतों, पड़ोसी देशों जैसे नेपाल, बंगला देश आदि से आए थे, व ग्रीन सोसाइटी के सद्स्यो ने मिल कर रामबाग हांसी रोड़ की पूर्णरुपेण सफ़ाई का अभियान चलाया । म्युसिंपल कमेटी के चेयरमैन श्री विजय पंचगाव जी का विशेष सकारात्मक सह्योग रहा।

इसी कड़ी में इन स्वयंसेवको ने और दी ग्रीन सोसाइटी के सद्स्यों द्वारा वैश्य कालेज चौराहे से लेकर रोहतक चौक तक जगह – जगह लगे पोस्टरों, बैनरों को हटा कर ओर सफ़ाई अभियान चला कर् एक विशेष सेन्द्श समाज को दिया।

5 अप्रैल 2014 को सोसाइटी ने अपना पाँचवा स्थापना दिवस नेकी राम सभागार में आयोजित किया। नेकीराम पुस्तकालय का प्रांगण जिसका जिर्णौद्धार का जिम्मा सोसाइटी ने एक वर्ष पह्ले उठाया था, आज उसकी छटा देखते ही बनती है। आगन्तुको ने उस मनोरम दृस्य की भूरि भूरि प्रशंसा की।

यह दिवस विशेषतयाः पारिवारिक मिलन के रुप में मनाया गया। सोसाइटी के सद्स्य श्री श्याम वशिष्ठ जी के निर्देशन में एक सांस्कृतिककार्यक्रम का आयोजन हुआ। शहर व समाज के अनेक गणमान्य व्यकितयों ने इसमें भाग लिया। इस अवसर पर सोसाईटी के सचिव श्री जगदीश गिरधर ने वार्षिक रिपोर्ट पेश की। इसी दिन अनेक समाज सेवी महानुभावों ने सोसाइटी को विशेष अर्थिक सहायता प्रदान की।

इस मंच से सोसाइटी के संस्थापक डा. पी. के. आनन्द ने सभी उपस्थित सज्ज्नों का आह्वान किया कि सभी मिलकर शहर को सुन्दर व हरा – भरा बनाने में मदद करे।

जून 2014 के माह में झंकार रोड़ के तिराहे (डा. जे. बी. गुप्ता ह्स्पताल के सामने) को नई ग्रिल लगवा कर डिवाइडरों पर पौधारोपण का कार्यक्रम सोसाइटी ने पुरा किया और अतिरिक्त उपायुक्त श्री सुजान सिहँ जी ने उसका लोकार्पण किया।

इसी प्रकार बी. टी. एम. चौक पर भी एक उजाड़ मे दिखने वाले डिवाईडर पर ग्रील लगवाई गई व उसमें पौघे लगा कर हरा भरा बनाया गया।

अतः भिवानी शहर के सभी चौराहो को सोसाइटी द्वारा हरा भरा बना कर सुन्दर रुप दे दिया गया है और उनकी निरन्तर देखभाल की जा रही है।

समाज के कुछ लोगों का यह भी कह्ना है कि यह सभी काम तो सरकार व कमेटी द्वारा किये जाने चाहिए, लेकिन सोसाइटी के सभी सद्स्य यह मानते है कि सरकार व प्रशासन का उदासीन रवैया ह्में और भी अधिक प्रेरित करता है कि हम सब शहर को सुन्दर हरा भरा व आकर्षक बनाने मे अपना योगदान देते रहे और बाकी शहरवासियों के लिए एक मिसाल कायम करें

क्लीन सिटी व ग्रीन सिटी के अपने मूल मन्त्र को लेकर सोसाइटी ने अपने ही ढ़ग से वन महोत्सव मनाने का निर्णय लिया।

इस संकल्प के अधीन सबसे पहले हाँसी रोड़ पर एक उपेक्षित डिवाइडर को अपनाया और उस डिवाईडर मे करीब 800 पौधे लगवा कर हरा भरा बनाने की मुहिम छेड़ दी। इस पर लगने वाला पूरा खर्च सोसाइटी के सद्स्यो की अपनी पूंजी से किया जा रहा है। आने वाले समय में जब पौधे विकसित होकर अपनी छटा बिखेरेगें तो राहगिरों को एक सूकून मिलेगा। पर्यावरण प्रदुषण कम होगा व रात के समय वाहन चालकों को आमने सामने की लाईटों की चकाचौंध से भी बचाएगा।

पुरी निष्ठा व लग्न से हम इस कार्य मे लगे हुए है । …………………………….

 

"हम इस शहर के है, यह शहर हमारा है"

इसे सुन्दर एवं स्वच्छ भी ह्मने ही करना है

बाहर से कोई दूसरा आकर यह काम क्यों करेगा?

हमारे प्रमुख भावी कार्यक्रम

1     झंकार मोड़ चौक पर तीनो डिवाइडरो कि लौहे कि ग्रिल लगवाकर तथा हरा – भरा बनाना। (Completed June 2014)

2     बी टी एम चौक को ग्रीन क्षेत्र के रुप मे विकसित करना। (Divider completed with gril and plantation)

3     नेकीराम जिला पुस्तकालय के सभागार की कुर्सियोंको बद्लवाकर हाल (सभागार) को वातानुकूलित बनाना।

4     अन्य सामाजिक संगठनों के साथ मिल कर भिवानी की यातायात व्यवस्था को सुरक्षित करना तथा लावारिश पशुओं विशेषत गाय धन को गौशाला मे स्थानांतरित करने की व्यवस्था बनाना।

आप सभी नगरवासी आने वाले दिनो मे विभिन्न कार्यक्रमों को गति देने हेतु हमारा सहयोग निम्नलिखित रुप से कर सकते है।

1     आर्थिक सहायता / दान रुप में कोई राशि ।

2     सोसाइटी के सद्स्य बन कर तथा सोसाइटी के लिये श्रमदान करके।

3     विभिन्न कार्यक्रमों के लिय श्रम / समय का दान करके।

4     यन्त्र / औजार आदि का सहयोग करके : जिसमे प्रमुख है एक ट्रैक्टरव ट्राली, जिससे हम अलग अलग स्थानो पर लगाए हुए पेड़ - पौधों का निरन्तर पानी पहुँचा कर उन्हे पुष्पित पुल्लवित रख सके।

5     कोई भी ऐसा तरीका जिससे आप हम इस शहर को सुन्दर, स्वच्छ एवं हरा भरा रखने मे मदद कर सकें।